Friday , July 21 2017
  • karantikari ghazal

    Aankh sooraj pe phaad kar dekho karantikari ghazal

    आँख सूरज पे फाड़ कर देखो हेकड़ी उसकी झाड़ कर देखो ।   दौड़ते हैं जो आपके पीछे उन दुखों को पछाड़ कर देखो ।…

  • ghazal lyrics

    Nazaara hai jo aankhon mein ghazal lyrics

    नज़ारा है जो आँखों में ये हर सू टूट सकता है मेरी साँसों पे है मेरा जो काबू टूट सकता है! मेरे मौला मे…

  • Ham donon ke hai beech muhbbat bhari ghazal

    हम दोनों के है बीच वो हर बात बाँट लें ये दिन दुपहरी शाम और रात बाँट लें । सब घाव आधे आधे आधे सभी मरह…

  • love ghazal in hindi

    Nazar se nazar kee rahee love ghazal in hindi

    नज़र से नज़र की रही राज़दारी चढ़ी इक दफ़ा तो न उतरी खुमारी । न कुछ भी जुबां का है किरदार कोई नज़र से नज़र न…

  • desh bhakti ghazal

    dekha nahi kabhi chasma utaarkar desh bhakti ghazal

    देखा नही कभी भी चश्मा उतारकर उसने सभी को परखा सिक्का उछालकर ।   अजमा रहा है कबसे वो मेरी ताकतें खुदक…

Recent Updates

Nazar se nazar kee rahee love ghazal in hindi

love ghazal in hindi

नज़र से नज़र की रही राज़दारी चढ़ी इक दफ़ा तो न उतरी खुमारी । न कुछ भी जुबां का है किरदार कोई नज़र से नज़र ने करी बात सारी । नज़र को नज़र की लगी जब नज़र तो नज़र ने नज़र की नज़र है उतारी । नज़र को ज़दों में …

Read More »

dekha nahi kabhi chasma utaarkar desh bhakti ghazal

desh bhakti ghazal

देखा नही कभी भी चश्मा उतारकर उसने सभी को परखा सिक्का उछालकर ।   अजमा रहा है कबसे वो मेरी ताकतें खुदको युँ बार बार ही ख़तरे में डालकर ।   वो मौत के जबड़ों से लाया था ज़िन्दगी हैरत को रख दिया था हैरत में डालकर ।   लोहे …

Read More »

Sher-Manzil kay hai, rasta kya hai

ghazleN

    Manzil kay hai, rasta kya hai, hausla hai to fasla kya hai, vo saja dekar door jaa baithe, kis se puchhun ki meri khata kya hai…

Read More »
  • Love Shayari

    wapha se khoob ye puranoor aaphataab rahe Love Shayari

    वफा से खूब ये पुरनूर आफताब रहे दुवा करो की मेरा इश्क कामियाब रहे !! बसा लिया है उसे दिल में इस गरज के तहत मैं चाहता हूँ की ता उम्र ये शबाब रहे !! खुदा गवाह है हमने जो ये गुज़ारे हैं तुम्हारे साथ में दिन रात लाजवाब रहे …

    Read More »
  • sad shayari

    hamaare saamane ham ko Sad Shayari

    हमारे सामने हम को खराब कहेने लगे चराग़ थे जो उन्हें आफताब कहेने लगे ! ज़रा सी देर को हाथों से क्या बहिश्त गई अमाँ ये लोग तो खाना खराब कहेने लगे ! मैं अपना दर्द लिये क्या सुखन वरों में गया तमाम लोग ये आली जनाब कहेने लगे ! …

    Read More »
  • Love Shayari

    wapha se khoob ye puranoor aaphataab rahe Love Shayari

    वफा से खूब ये पुरनूर आफताब रहे दुवा करो की मेरा इश्क कामियाब रहे !! बसा लिया है उसे दिल में इस गरज के तहत मैं चाहता हूँ की ता उम्र ये शबाब रहे !! खुदा गवाह है हमने जो ये गुज़ारे हैं तुम्हारे साथ में दिन रात लाजवाब रहे …

    Read More »
  • sad shayari

    hamaare saamane ham ko Sad Shayari


© Copyright 2016 All Rights Reserved | Designed by Hindi Shayari SMS